रक्त दान महादान

रक्त दान महादान
दे सकते हो जीवन दान
कर सकते हो महा कल्याण
क्यों होते परेशांन श्री मान

शिक्षा चिकित्सा व्यवसाय बना
तुम बन जावो देव तुल्य इन्सान
विद्या दान सर्व श्रेष्ट दान
चुरा न सकता कोई इन्सान

अंग दान चल रहा कल्याण
किडनी दे करो कल्याण
धन दान कैसा कल्याण
मुफ्तखोर बन नाचे श्रीमान

मृत शरीर फूंक रहे
अंग दान कर अमर रहे
नेत्र दे उजियारा देखे
शव दान कर महान रहे
नवीन कुमार तिवारी ,,,

         

Share: