” युवाओं को जगायेंगे “

युवाओं को जगायेंगे
———————————

1. हमारा   देश    शदियो  से  रहा  है   शांति   का     पक्षधर
    अभी तक देश भक्ति के बल बना दुश्मन के लिए विषधर
     भविष्य का ताकत हैं हम देश का गुण सबको बतायेंगे
      निराला   आ   गये   हैं   अब   युवाओं   को   जगायेंगे ।

2 . समय  के अनुसार  उसे रास्ता दिखाना  चाहिए
     नवयुवक से भरा है भारत उसे मार्गदर्शन चाहिए
     शक्ति  पूर्ण  है  तुम्हारे  अंदर , तुम्हे सब दिखायेंगे
      निराला  आ  गये  हैं  अब  युवाओं  को  जगायेंगे ।

3.  मीठी  वाणी  हमारे  देश का सम्मान बढ़ाते हैं
      महापुरूषो    महाॠषियो  की  भूमि बताते हैं
     बुद्ध महावी राम कृष्ण की धरती है सब जानेंगे
      निराला  आ  गये  हैं अब युवाओं को जगायेंगे ।

4.  पराया  शब्द  तक  नहीं  है  सब परिवार लगता है
      बङे  छोटे  सब  मिलकर  यहाँ  एक  बना रहता है
     युवाओ, एकता का गुण यहाँ हम सबको सीखायेंगे
     निराला   आ   गये  हैं  अब   युवाओं  को   जगायेंगे ।

5.  पूर्वजो  का  मिला  आशीष  सौहार्द  बनाना है
      हमे संस्कार प्राप्त हुआ धरा को घर समझना है
     विनती कर जगत से साथ रहने सबको बुलायेंगे
     निराला  आ  गये  हैं  अब  युवाओं  को जगायेंगे ।

6.  स्वभाव  तुम्हे  बदलना  पड़ेगा  जब  विकास चाहिए
      हमे सौहार्द बनाकर रहना पड़ेगा जब प्रकाश चाहिए
      सभी   मिलकर  पुरे  देश  बदल,  नया  युग  बनायेंगे
      निराला   आ   गये   हैं  अब  युवाओं  को  जगायेंगे ।

7.  दिखा कर ज्ञान इस संसार में सबको बताना हैं
      इस  देश  में  सभी  से  प्रेम  का  धारा  बहाना है
      मनुष्यों  में  तभी  हम  श्रेष्ट नागरिक कहलायेंगे
      निराला  आ  गये  हैं  अब युवाओं  को  जगायेंगे ।

———-@जय प्रकाश निराला

         

Share: