“नशा…एक अभिशाप”…

°°°
नशा नाश है जीवन का , ये समझ जाओ दोस्तों ।
इस दलदल में फँसने से ख़ुद को बचाओ दोस्तों ।।
.
जीवन बेहद अनमोल है , ये सभी जानते हैं ,
फिर भी नशा करके नशेड़ी ख़ुद को मारते हैं ।
बुरी तलब को अपने दिमाग से हटाओ दोस्तों ,
नशा नाश है जीवन का , ये समझ जाओ दोस्तों ।।
.
भले उधर पश्चिमी सभ्यता का नशा एक अंग है ,
किंतु इधर जीवन-शैली को कर रहा ये भंग है ।
युवाओं को इसके दुष्परिणाम दिखाओ दोस्तों ,
नशा नाश है जीवन का , ये समझ जाओ दोस्तों ।।
.
नशा इंसान को दीमक जैसे चाट जाती है ,
शारीरिक , मानसिक , आर्थिक बर्बादी बुलाती है ।
घर , परिवार , समाज को जागृत कराओ दोस्तों ,
नशा नाश है जीवन का , ये समझ जाओ दोस्तों ।।
.
तम्बाकू , गुटखा , सिगरेट , बीड़ी , गाँजा , शराब ,
बताने की क्या ज़रूरत है , ये हैं बहुत ख़राब ।
नशा-मुक्ति दिवस अब तो हर रोज मनाओ दोस्तों ,
नशा नाश है जीवन का , ये समझ जाओ दोस्तों ।।
.
नशा नाश है जीवन का , ये समझ जाओ दोस्तों ।
इस दलदल में फँसने से ख़ुद को बचाओ दोस्तों ।।
°°°
— °•K.S. PATEL•°
( 23/12/2018 )

         

Share: