जन जागरण-9

काम आप जो कीजिये,नीयत रखिये साफ़।
बद् नीयत को ईश भी,करते नहीं मुआफ़।।
भरत दीप

         

Share: