वहीं मिलेंगे ईश

तीरथ सारे कर लिये,मिले नहीं जगदीश।
अन्तर्मन  में खोजिये , वहीं  मिलेंगे  ईश।।
भरत दीप

         

Share: