“ख़्वाहिश”…

°°°
और पाने की ख़्वाहिश इंसान का स्वभाव है ,
सोच पर हमेशा लालच का दिखता प्रभाव है ।
मगर कुछ लोगों के चेहरे पे होती है मुस्कान ,
चाहे जीवन में होता कितना ही अभाव है ।।
.
हर संतोषी से ग़म बहुत ही दूर रहता है ,
संतोष से सबका व्यक्तित्व अलग निखरता है ।
जो ख़ुद को मिला है , वो किसी को मिला भी नहीं ,
गौर करने पर ये बात दिल ज़रूर कहता है ।।
.
ध्यान रहे दिमाग अच्छा-बुरा दोनों बोता है ,
अच्छा सोचो अगर तो हमेशा अच्छा होता है ।
बुरे विचार का खरपतवार हटाना ज़रूरी ,
वरना कोई भी फिर चैन से नहीं सोता है ।।
.
खुशी अगर ढूँढों तो ज़िंदगी के हर पल में है ,
जीने का सुंदर अंदाज़ आज में-कल में है ।
बस एक बात का ख़्याल रखना ज़रूरी “कृष्णा”,
अपनों से दूर करने का कुप्रभाव छल में है ।।
°°°
— °•K.S. PATEL•°
( 15/03/2019 )

         

Share: