कैसे जमाने आ गये

क्या कहें यारा ये अब कैसे जमाने आ गये।
अपने क़ातिल फैसला हमको सुनाने आ गये।
जब भी चाहा ढूंढना हम ने तो दुनिया में खुशी,
हाय! हाथों में मेरे गम के ख़ज़ाने आ गये।
——राजश्री——

         

Share: