ट्रैफिक लाइट

ट्रैफिक लाइट और ये भीड़
बंद होती लाइट खड़ी भीड़
हरी देख कर भगी ये भीड़
भीड़ ये आदमियों,औरतों
बच्चो और उन बूढो की
जिनका रहता हरदम काम
कभी न करते जो आराम
थकती नही ये लाइट भी
संयम से करती ये काम
राही को देती ये आराम

-आकिब जावेद

         

Share: