मुख्य द्वार तीज से

मंद मंद गति से शीतल पवन
मुस्करा रहा है नील गगन
बरखा की बौछार है!
सब त्यौहार की जननी बच्चों,
ये तीज त्यौहार है!!
फूल शाख पर खिल रहे!
सभी झूला झूल रहे!
बच्चों में है नयी उमंग,
आई तीज खुशियों के संग!
सावन मास की बहार है!
प्यारा तीज त्यौहार है!!
पेड़ पौधे भी गाते हैं गाना
मोर ने पंखों से छाता ताना
बच्चे नहाये निर्भय होकर
सूरज उठा मुँह धोकर
बादलों की भरमार है!
प्यारा तीज त्यौहार है!!

         

Share: