मुस्कान बेटियों की…

“”दो पंक्तियाँ बेटियों के नाम””

मुस्कान बेटियों की सारी थकान ले जाती हैं

.. लबों पे हमारे भी प्यारी मुस्कान दे जाती हैं.. ..

…..आकर्षण दुबे (अंजान)

         

Share: