आसान नही दिल का लगाना

आसान नही किसी से दिल का लगाना
खंजर छुपाये बैठा हो अब कोई दीवाना

आसान नही अपने दिल के हाल बताना
धोखा दे जाते हैं लोग निभा के दोस्ताना

आसान नही किसी रोते हुये को हंसाना
बहुत मुश्किल है अब हँस कर समझाना

आसान नही है तेरी यादो को मिटाना
कुर्बान न हो जाये अब कोई परवाना

आसान नही किसी को यूं अपना बनाना
पड़ता हैं मुश्किल से रिश्तो को निभाना

आसान नही किसी के दिल को दुखाना
बहुत मुश्किल है फिर किसी को मनाना

आसान नही किसी पे मर के मिट जाना
बहुत मुश्किल है फ़िर जख़्म दिखाना

●आकिब जावेद●

02/06/18

         

Share: