“हुआ क्या है…?”

°°°
ज़िन्दग़ी ज़श्न के सिवा क्या है ?
डूबेंगें तो फिर ….. बचा क्या है ?
••
सभी ख़्वाब हासिल कर लिये जो ,
पूछें हैं आखिर ……हुआ क्या है ?
••
बेवज़ह… दुश्मनी क्या ठीक है ?
प्यार करके जानो वफ़ा क्या है ?
••
हद से ज्यादा मत दुखाओ दिल ,
वरना भूलो फिर… दुआ क्या है ?
••
माँ-बाप हैं ……. वृद्धाश्रम में ,
मत पूछो अब हादसा क्या है ?
••
धन कमाने में ……… उम्र ढल गई ,
अब कहो , नुकसान-नफ़ा क्या है ?
••
अच्छे करम भूलना न “कृष्णा” ,
साँस जो गई फिर रहा क्या है ?
°°°

         

Share: