“मुस्कुराना तेरा”…

°°°
बेहद याद आता है अक्सर मुस्कुराना तेरा ।
जाने क्यूँ सताता है अक्सर मुस्कुराना तेरा ?
••
ग़मों के अलावा इस ज़हान में कहीं खुशी भी है ,
हरदम ये बताता है अक्सर मुस्कुराना तेरा ।
••
तू अगर हँसे तो लगता मानो फूल झर रहे हों ,
इक सक़ून दिलाता है अक्सर मुस्कुराना तेरा ।
••
हर मर्ज़ की अब मानो एक ही दवा बन गयी हो ,
दर्दों को मिटाता है अक्सर मुस्कुराना तेरा ।
••
ये ज़रूरी नहीं कि संगीत के लिए साज ही हों ,
सुमधुर धुन सुनाता है अक्सर मुस्कुराना तेरा ।
••
कोई भी राज़ की बात अब राज़ रहेेगा कैसे ?
हर पर्दा उठाता है अक्सर मुस्कुराना तेरा ।
••
ज़िंदादिली का मतलब क्या , “कृष्णा” अब जान गया है ,
सच जीना सिखाता है अक्सर मुस्कुराना तेरा ।
°°°
— °•K.S. PATEL•°
( 15/05/2019 )

         

Share: