टेंशन

रोहन कुछ दिनों से थोड़ा सुस्त सा नजर आ रहा था । ठीक से खाना पीना भी नही कर रहा था ,,दोस्तों के साथ क्रिकेट खेलने भी नही जाता था । चूँकि फाइनल एग्जाम नजदीक थे तो उसे इतना तनाव लेते देख कर सब उसके दादाजी ने पास बुलाकर कहा .
“बेटा आजकल बड़े टेंशन में नजर आ रहे ,,कोई परेशानी है क्या …? पढ़ाई की ज्यादा टेंशन लेने की जरूरत नही है , आराम से पढो और साथ मेंअपने स्वास्थ्य का भी ख़्याल रखो ।
रोहन ने कहा , “जी दादाजी , ख़्याल रखूँगा और मन ही मन बोला ,”””दादाजी टेंशन ही पढ़ाई की ही है और अगर ये टेंशन मैंने छोड़ दी तो आप टेंशन में आ जाओगे ।”””

★वन्दना★

         

Share: