Category Archives: महिला प्रधान कहानी

उस आदमी के लिए

मैंने नीलम(पड़ोसन) से कहा, “करवाचौथ आने वाला है क्या कर रही हो ?” “कुछ खास नहीं ?” उसने रूखे स्वर में कहा। “क्यों व्रत नहीं रख रही क्या ?” मैंने कहा। “किसके लिए व्रत रखूँ, उस आदमी के लिए जो इतने सालों से मुझे परेशान कर रहा है, शराब पीता है मारता पीटता है, जो […]

लड़की और समाज

सुनो! क्या कर रही हो? इधर आओ खाना देने पिता जी को जाना हैं।अंदर से चीरती हुई आवाज आ रही थी । माँ आ रही हू! बाहर खेलते हुए किरन ने आवाज अपनी माँ को दी। किरन बारह साल की बच्ची हैं जो कि अपने घर में तीन भाई बहनों में सबसे छोटी थी।लेकिन घर […]

बेटी

एक शहर में एक लड़की रहती थी जिसका नाम जहाना था , वह दिखने में बहुत ही सुंदर थी कद लम्बा , बाल रस्सी की तरह एक दम सीधे ! वह आपने अम्मी और अबू की तीसरी ओलाद थी उसके अन्य एक भाई एक बहन भी थे , जहाना बहुत समझदार थी वह अपने जीवन […]