Category Archives: सीन,डॉयलोग (प्रेम-मोहब्बत)

मुहब्बत और नफ़रत

तुम्हें क्या लगता है.. वो बातें बनायेगी तो वो आँख बंद करके उन बातों पर शर्म से मुस्कुरायेगा? – लगने का तो पता नहीं.. लेकिन होना तो कुछ ऐसा ही चाहिए। तो तुम ग़लत सोचती हो.. वो किसी के बातों पर थमकर मुस्कुराता नहीं है। – तो क्या करता है? उसे नहीं पता होता है […]